Facebook

यूजर्स की प्राइवेसी को लेकर फेसबुक एक फिर सवालों के घेरे में है। कुछ समय पहले दुनिया में लोकप्रिय हो रहे Zoom के डेटा लीक की भी खबर सामने आई थी और अब Facebook डेटा डार्क वेब पर बेचे जाने की जानकारी मिली है। नई सिक्योरिटी रिसर्च में दावा किया गया है कि 267 मिलियन (26 करोड़ 70 लाख) यूजर्स का डेटा लीक हुआ है और इस डेटा को केवल 500 यूरो (लगभग 41,000 रुपये) में डार्क वेब पर बेचा गया है। साइबल ने बताया कि उनके रिसर्चर ने सेल की जानकारी हासिल की है। इतना ही नहीं, वह डेटा डाउनलोड और वेरिफाई करने में सक्षम हैं। नई रिपोर्ट Cyble के जरिए सामने आई है जिसने रिपोर्ट में इस बात का जिक्र किया है यूजर्स के पासवर्ड तो नहीं लेकिन इस बार यूजर के जन्म तिथि, ईमेल आईडी, नाम और फोन नंबर लीक हुए हैं। आप लोगों को याद करा दें कि दिसंबर 2019 में भी एक रिपोर्ट से करोड़ो यूजर्स के डेटा चोरी होने की खबर सामने आई थी। रिपोर्ट में इस बात का जिक्र है कि उन्हें अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि डेटा आखिर सबसे पहले लीक कैसे हुआ।

क्या करें फेसबुक यूजर्स
सबसे पहले देखें कि आपने किन-किन ऐप्स पर फेसबुक के ज़रिए लॉग-इन किया हुआ है। उन सभी ऐप्स को फेसबुक से अनलिंक कर दें। ऐसा आप फेसबुक की Settings में जाकर फिर Apps and websites में जाकर कर सकते हैं। अपने फेसबुक अकाउंट की Settings में जाकर लॉग-इन अलर्ट सेट कर लें। लॉग-इन अलर्ट सेट करने के लिए Security and Login Settings में जाएं। इसके बाद Settings में Get alerts पर क्लिक करें। हो सके तो समय-समय पर फेसबुक पासवर्ड भी बदलते रहें।

Source: cyble